ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड वैक्सीन को एक्सपर्ट कमेटी की मंजूरी, 5 करोड़ डोज तैयार

ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड वैक्सीन को एक्सपर्ट कमेटी की मंजूरी, 5 करोड़ डोज तैयार

कोरोना की बढ़ती महामारी के बीच नए साल में सरकार ने देश के लोगों के लिए एक राहत भरी खबर दी है। ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड को CDSCO पैनल ने शुक्रवार को मंजूरी दे दी। अब अंतिम फैसले के लिए इसे ड्रग्स कंट्रोलर ऑफ इंडिया के पास भेजा गया है। ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन को ब्रिटेन और अर्जेन्टीना में पहले ही मंजूरी मिल चुकी है। ऐसे में कोविशील्ड को मंजूरी देने वाला भारत तीसरा देश होगा।

बता दें भारत में ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन कोविशील्ड को देश की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ने एस्ट्रेजेनिका के साथ मिलकार तैयार किया है।

कोविड-19 वैक्सीन के आपात इस्तेमाल के लिए भारत में तीन कंपनियों की तरफ से अनुमति मांगी गई थी। इनमें ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड के अलावा भारत बायोटेक की ‘कोवैक्सीन’ और अमेरिकी कंपनी फाइजर की वैक्सीन शामिल हैं। ऑक्सफोर्ड पहली वैक्सीन है, जिसे एक्सपर्ट कमेटी की तरफ से मंजूरी दी गई है। ‘कोवैक्सीन’ को लेकर एक्सपर्ट कमेटी की तरफ से अभी और डेटा मांगा गया है। फाइजर ने प्रजेंटेशन के लिए डेटा प्रस्तुत करने के लिए और समय की मांग की है।

गौरतलब है कि स्वदेशी वैक्सीन ‘कोवैक्सीन’ को भारत बायोटेक और इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के साथ मिलकर तैयार कर रही है। अमेरिकी दवा कंपनी फाइजर ने बायोएनटेक के साथ मिलकर फाइजर वैक्सीन तैयार की है।

सरकार ने साफ किया है कि कोरोना की वैक्सीन सबसे पहले फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर यानि स्वास्थ्यकर्मियों को दी जाएगी। उसके बाद पचाल साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण होगा। सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया अब तक ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका कोविड-19 वैक्सीन के करीब 5 करोड़ डोज का उत्पादन कर चुकी है। कंपनी का दावा है कि 2021 मार्च तक 10 करोड़ खुराक का उत्पादन कर लिया जाएगा।

thenewslede

Related articles