भारत में 16 जनवरी से शुरू होगा कोरोना का वैक्सीनेशन, 3 करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों को पहले लगेगा टीका

भारत में 16 जनवरी से शुरू होगा कोरोना का वैक्सीनेशन, 3 करोड़ स्वास्थ्यकर्मियों को पहले लगेगा टीका

कोरोना के खिलाफ जंग के लिए देश में वैक्सीनेशन का कार्यक्रम 16 जनवरी से शुरू हो जाएगा। सबसे पहले करीब 3 करोड़ हेल्थ वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका दिया जाएगा। इसके बाद 50 साल से ऊपर के लोगों को वैक्सीन दी जाएगी। इनके बाद गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों का वैक्सीनेशन होगा। ऐसी लोगों की संख्या करीब 27 करोड़ है।

देश में कोरोना की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को समीक्षा बैठक बुलाई थी। देश में 16 जनवरी से टीकाकरण शुरू करने का फैसला इसी मीटिंग में लिया गया।  बैठक में पीएम मोदी के अलावा कैबिनेट सेक्रेटरी, पीएम के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, हेल्थ सेक्रेटरी और दूसरे बड़े अधिकारी शामिल हुए। पीएम मोदी ने मीटिंग में देशभर में वैक्सीनेशन को लेकर तैयारियों के बारे में जानकारी ली। इस दौरान पीएम मोदी ने Co-WIN वैक्सीन डिलिवरी मैनेजमेंट सिस्टम के बारे में भी जानकारी ली। Co-WIN से वैक्सीनेशन की रियल टाइम निगरानी, वैक्सीन के स्टॉक की जानकारी और वैक्सीन लेने वालों को ट्रैक करने की जानकारी होगी। अभी तक Co-WIN पर करीब 80 लाख लोगों ने वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है।

बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 जनवरी को देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वक्सीन की तैयारियों को लेकर चर्चा करने वाले हैं। लेकिन उससे पहले ही वैक्सीनेशन की तारीखों का एलान कर दिया गया।

गौरतलब है कि भारत में सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को 3 जनवरी को इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिली थी। अब करीब 2 हफ्ते बाद कोरोना महामारी से लड़ने के लिए वैक्सीनेशन का कार्यक्रम शुरू हो जाएगा।

thenewslede

Related articles