ममता ने उठाई देश में 4 राजधानी की मांग, कहा कोलकाता भी शामिल हो

ममता ने उठाई देश में 4 राजधानी की मांग, कहा कोलकाता भी शामिल हो

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर बंगाल में सियासी घमासान मचा है। ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस नेताजी के जन्मदिन पर देशनायक दिवस मना रही है। नेताजी की जयंती पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कोलकाता के श्याम बाज़ार से रेड रोड तक 9 किलोमीटर लंबा रोड शो किया। ममता के रोड शो में भारी भीड़ उमड़ी।

रोड शो खत्म करने के बाद ममता बनर्जी ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। ममता ने बीजेपी पर देश को तोड़ने का आरोप लगाया। साथ ही देश में चार राजधानी की मांग भी उठाई। रैली के बाद ममता बनर्जी ने अपने संबोधन में कहा कि भारत में चार रोटेटिंग राजधानियां हों और इन सभी राजधानियों में संसद सत्र आयोजित किए जाएं। ममता ने कहा कि अंग्रेजों ने कोलकाता में रहते हुए पूरे देश में राज किया था। फिर देश में सिर्फ एक ही राजधानी क्यों है, कोलकाता को भी राजधानी घोषित किया जाए।

ममता ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज़ाद हिंद फौज को हिंदु, मुस्लिम, सिख इसाई हर समुदाय के लोगों ने मिलकर बनाया। उनके विचार देश को बांटने के बजाए एकता के सूत्र में बांधने के थे। अंग्रेजों ने फूट डालकर राज करने की नीति अपनाई। बीजेपी भी देश को तोड़ने की राजनीति करती है। ममती ने कहा मैं देश के लिए बीजेपी से लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हूं। ममता ने योजना आयोग को खत्म करने पर भी मोदी सरकार को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि नेताजी ने ही योजना आयोग की परिकल्पना की थी।

ममता ने 23 जनवरी को नेताजी की जयंती पर सार्वजनिक अवकाश घोषित करने की भी मांग की। ममता ने कहा कि केंद्र सरकार ने अभी तक 23 जनवरी को छुट्टी घोषित नहीं की है, इसे तुरंत लागू किया जाए।

thenewslede